बिदुपुर: डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी के तैल चित्र पर पुष्पांजलि एवं माल्यार्पण करते हुए बलिदान दिवस मनाया गया।

इस खबर को सुनें

बिदुपुर। बिदुपुर प्रखंड के सहदुल्लहपुर धोबौली पंचायत ग्राम उफरौल में भाजपा बिहार प्रदेश कार्यसमिति सदस्य किसान मोर्चा हरेश कुमार सिंह के निवास स्थान पर डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी के तैल चित्र पर पुष्पांजलि एवं माल्यार्पण करते हुए बलिदान दिवस मनाया गया। अध्यक्षता करते हुए प्रदेश कार्यसमिति सदस्य किसान मोर्चा हरेश कुमार सिंह ने कहा कि डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी का जीवन संघर्षों की गाथा है। आजाद भारत में देश की एकता, अखंडता के लिए अपना जीवन बलिदान करने वाले महान राष्ट्रवादी, संविधान विशेषज्ञ ,शिक्षाविद ,जनसंघ के संस्थापक सदस्य उन्होंने देश के लोगों से एक देश में” दो विधान दो प्रधान और दो निशान का “मुखालफत करने का आग्रह किया था

एवं बिना परमिट जम्मू कश्मीर जाने के दौरान रास्ते में ट्रेन में ही तत्कालीन सरकार द्वारा उनको गिरफ्तार कर एक छोटे से कमरे के ऊपरी मंजिल पर एकमात्र नर्स की देखरेख में जो कभी आती थी कभी नहीं आती थी नजर बंद कर दिया गया था। छोटे से कमरे में अपना पूर्ण जिंदगी जीते हुए 40 में दिन संदेहास्पद स्थिति में उनकी मृत्यु हो गई इस अवसर पर उपस्थित भाजपा वैशाली अधिवक्ता मंच पूर्व जिला संयोजक संजय सिंह ने भी उनके जीवन की विस्तार पूर्वक चर्चा की तथा मंडल उपाध्यक्ष आमोद कुमार शर्मा ,चंद्रकांत भास्कर ,सुरेश सिंह, रंजन सिंह, विजय सिंह, अमित सिंह, बिजली सिंह ,संजय कुमार सिंह ,बसंत पासवान, परमजीत पासवान, टिंंकू कुमार ,रजनीकांत सिंह ,राहुल सिंह ,मुकेश सिंह, मनोज सिंह, रविंद्र सिंह आदि ने भी श्रद्धा पूर्वक उनके तैल चित्र पर पुष्पांजलि एवं माल्यार्पण कर नमन किया तथा भाजपा कार्यकर्ताओं की प्रेरणा स्रोत बताया।

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे