बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में मिसाल बन कर उभरे जनप्रतिनिधियों में रंजीत कुमार सिंह .

इस खबर को सुनें

खबर वैशाली जिले के भगवानपुर प्रखंड से हैं जिला परिषद क्षेत्र संख्या 19 के प्रतिनिधि रंजीत कुमार सिंह इन दिनों बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लगातार दौरा कर रहे हैं ..इसी वर्ष पंचायत चुनाव भी होना है .लेकिन रंजीत कुमार सिंह के लिए चुनाव मायने नहीं रखता.. बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लोगों का दुख दर्द देखने के लिए लगातार वह दौड़ा करते हैं ..जनप्रतिनिधियों के लिए मिसाल बन कर उभरे हैं रंजीत कुमार सिंह ..

एक तरफ जहां चारों तरफ बाढ़ का पानी लगा हुआ है गांव में जल निकासी नहीं हो रही है नाव की जरूरत है सामुदायिक किचन की जरूरत है ऐसे में वह तमाम जनप्रतिनिधि जो भी घरों में बैठे हुए हैं वहां जिला परिषद क्षेत्र संख्या 19 के रंजीत कुमार सिंह लगातार लोगों के बीच में दिन-रात दौरा कर रहे हैं लोगों की समस्याएं सोशल मीडिया के माध्यम से अपना नंबर देकर उनसे जानकारी लेकर क्षेत्र में जाते हैं पंचायतों में सामुदायिक किचन की व्यवस्था करा रहे हैं नाव की व्यवस्था करवा रहे हैं ..इसके लिए वह भाजपा के विधायक संजय कुमार सिंह के साथ लगातार संपर्क में है

और भाजपा विधायक संजय कुमार सिंह भी लगातार डीएम हो डीएसएलआर हो भगवानपुर सीओ, प्रखंड विकास पदाधिकारी हो लगातार मिलकर जन समस्याओं को समाधान निकाल रहे हैं ..आज 24रिपब्लिक की बात जनप्रतिनिधि रंजीत कुमार सिंह से हुई उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर हम लगातार एक्टिव रहते हैं लोगों की समस्याओं को देखते हैं और जहां से लोग हमसे बातचीत कर रहे हैं वहां हम जाते हैं लोगों की समस्याओं को सुनते हैं और तुरंत वहां पर समाधान करते हैं पहले दो किचन चल रहा था अब 9 और अब कुल 25 समुदाय किचन चलने की तैयारी है ..जहां तक संभव हो पा रहा है हम मदद कर रहे हैं लोगों की समस्याएं सुनते हैं ..

अभी पंचायत चुनाव होना है बहुत सारे शिक्षित कर्मठ योग्य लोग अभी क्षेत्र में दौरा नहीं कर रहे ..उनको लगता है कि जनता उनसे कुछ मांग ना दे ..लेकिन हम पांचों साल अपने क्षेत्र में एक्टिव रहते हैं और लगातार लोगों की समस्याओं को देखने के लिए हर पंचायत में जा रहे हैं और वार्ड में जा रहे हैं यहां जो जरूरत होती है पदाधिकारियों से बात करके उनका समाधान निकलते हैं ..सोशल मीडिया पर लगातार जहां लोग कमेंट करते हैं वहां अपना नंबर देते हैं लोगों से बातचीत करते हैं और हर संभव कोशिश करते हैं कि उनकी समस्याओं का समाधान में निकाल पाऊं ..

हालांकि इन सब चीजों को मैंने किसी भी अखबार में या किसी भी डिजिटल मीडिया में देने की कोशिश नहीं की है ..लेकिन आज आपके चैनल के माध्यम से जब बातचीत हो रही है तो मैं यह कह रहा हूं कि क्षेत्र में जो भी समस्याएं हैं आप हमें भी बताएं हम वहां तक पहुंचने की कोशिश करेंगे फेसबुक हो या अन्य सोशल साइट के माध्यम से हम हमेशा लोगों की समस्याओं को देखते और अपना नंबर देते हैं उनसे बात करके उनकी समस्याओं का समाधान निकालने की कोशिश करते हैं !

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे