24Republic Bharat

www.24republicbharat.com

Corona Virus Live Update

0
Confirmed
0
Deaths
0
Recovered

सराय में आयोजित हुआ गंगा विष्णु स्मृति संगीत समारोह..

1 min read

संवाद सूत्र भगवानपुर।शास्त्रीय संगीत हमारे देश की धरोहर है ,जो शास्त्रीय संगीत के माध्यम से प्राप्त होता है।शास्त्री बंधन धार्मिक होता है तथा धर्म का मिलन सनातन होता है।संगीत भी एक साधना तपस्या से कम नही है ।हमलोग ब्रह्म को सागर मानते हूं,शब्द की ब्रह्म कहा जाता है।सामवेद में भी संगीत की सारी विधाय है। पुराने जमाने के साथ साथ संगीत से रोगों का उपचार होता है

जो सर्वविदित है,उक्त विचार धर्मसंघ के के प्रांतीय अध्यक्ष रामशंकर जी महाराज ने रविवार को सराय में आयोजित गंगा विष्णु स्मृति संगीत समारोह में अपने उद्यघाटन भाषण में अपने उदगार व्यक्त करते हुए कहा।इससे पूर्व समारोह जा विधिवत उद्यघाटन धर्म संघ के अध्यक्ष रामाशंकर जी महाराज,पूर्व जिला जज दिनेश शर्मा,पूर्व विधायक डॉ अच्चूदानंद सिंह,समाजसेवी डॉ अजित कुमार सिंह,पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष संजय कुमार सिंह,कुणाल कुमार गुप्ता,भाजपा अतिपिछड़ा प्रकोष्ट के जिलाध्यक्ष अजित कुमार गव्वार ने सामूहिक रूप से दीप प्रजबलित कर किया।


17 वे गंगा विष्णु स्मृति संगीत समारोह को संबोधित करते हुए गंगा विष्णु स्मृति संगीत समारोह के सचिव संजय सिंह ने कहा आज शास्त्रीय संगीत विलुप्त होते जा रही लेकिन भारत की संस्कृति एवम शास्त्रीय संगीत कभी भी बिलुप्त होने की चीज नही है,आज भारत मे पश्यचात संस्कृति जितनी तेजी से बढ़ रही है उतनी ही तेजी से शास्त्रीय संगीत भारत के कोने कोने में पनप रही है।वही पूर्व विधयाक डॉ अच्चूदानद ने कहा कि जो लोग अपने पुरखों को याद करते है, माता पिता गुरु को स्मरण करते है वह ईश्वर को भी आसानी से जीत लेते है जिसका वर्णन वेद में भी उपलब्ध है।


समारोह का शुरूआत पंडित हरिमोहन झा के मंगलाचरण से शुरुआत हुई जिसमें तबला पर संगत लालबहादुर पासवान ने किया। सरस्वती बन्दना एवम नृत्य बन्दना शिवानी मिश्रा एवम श्रुति मिश्रा ने किया किया जबकि उनके साथ तबला पर गोकुल मिश्रा ने संगत किया।पूर्व जज दिनेश शर्मा ने जब भजन प्रस्तुत किया तो लोगो बे अपनी तालियों को रोक नही सके तथा पूरा माहौल तालियों के गर ग्राहत से पूरा माहौल भक्तिमय हो गया। जब कथक नृत्य सुश्री महुआ शंकर ने प्रस्तुति जब प्रस्तुति की तो दर्शक मंत्रमुग्ध हो गए इनके साथ तबले पर मिथिलेश कुमार,सारंगी पर मुराद अली ने संगत किया। इससे पूर्व नामचीन शास्त्रीय संगीत के कलाकार पंडित जसराज,पूर्व केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान,सहित सहीदो के लिए दो मिनट का मौन रख कर श्रद्धांजलि दी गयी।समारोह में राजापाकर विधायक प्रतिमा कुमारी, भाजपा नेता कृष्ण कुमार सिंह उर्फ के एन सिंह, कांग्रेश नेता रुणा सुरेश प्रसाद नारायण सिंह, रास्ट्रीय युवा विकास परिसद के किसलय किशोर,अभय कुमार डब्लू सहित बड़ी संख्या संगीत प्रेमियों एवम भाजपाईयो ने हिस्सा लिया।मंच संचालन पूर्व मुखिया गणेश सिंह ने बखूबी निभाया जबकि उद्धघोषना बनारस से आये डॉ गौतम कुमार सिंह ने अपने शेरो शायरी से बीच बीच मे खूब हंसाया। कार्य क्रम देर रात्रि तक चलता रहा तथा श्रोता झूमते रहे। अन्य कलाकारों में शिलानाथ सिंह, विजय महाराज,पंडित राम प्रकाश मिश्रा,मो सोहेल हसन सहित स्थानीय कलाकारों ने देर रात्रि तक शास्त्रीय संगीत के समुंदर में गोता लगाते रहे।

लाइव कैलेंडर

January 2021
M T W T F S S
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031

LIVE FM सुनें